Top
Home » दुनिया » ब्लूचिस्तान में पीपीई की मांग करते हुए डॉक्टरों, मेडिकल स्टाफ के लोग गिरफ्तार

ब्लूचिस्तान में पीपीई की मांग करते हुए डॉक्टरों, मेडिकल स्टाफ के लोग गिरफ्तार

👤 manish kumar | Updated on:7 April 2020 7:53 AM GMT

ब्लूचिस्तान में पीपीई की मांग करते हुए डॉक्टरों, मेडिकल स्टाफ के लोग गिरफ्तार

Share Post

इस्लामाबाद । ब्लूचिस्तान में सोमवार को पीपीई की मांग करते हुए डॉक्टरों, मेडिकल स्टाफ के सदस्यों को गिरफ्तार किया है। ये लोग पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्विपमेंट (पीपीई) की मांग करते हुए प्रदर्शन कर रहे थे।

यंग डॉक्टर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ यासिर खान ने बताया कि 150 से अधिक डॉक्टर्स और पैरामेडिकल स्टाफ के सदस्यों को गिरफ्तार किया गया है।

दरअसल यह प्रदर्शनकारी मख्यमंत्री के घर के बाहर प्रदर्शन करना चाहते थे जब पुलिस के बैटन ने इन्हें गिरफ्तार कर लिया।

प्रेस कांफ्रेस के दौरान ने मरीजों को देने वाली सेवाओं का बहिष्कार करने की घोषणा की है। उन्होंने कहा कि ' यह सरकार हमसे काम कराना चाहती है। और हमें कुछ (पीपीई) नहीं देना चाहती।'

इस दौरान पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच हाथापाई भी हो गई। विरोध करने के बाद डॉक्टरों ने अपना काम ऑभी स्थगित कर दिया।

पुलिस का कहना है कि मेडिकल स्टाफ को धारा 144 के उल्लंघन करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है और इन्हें विभिन्न पुलिस स्टेशनों में रखा गया है।

उल्लेखनीय है कि कई डॉक्टरों के काम के दौरान कोरोनावायरस से संक्रमित होने के बाद यह प्रदर्शन किया गया है।

हालांकि ब्लूतिस्तान सरकार के प्रवक्ता लियाकत शाहवानी के मुताबिक सरकार ने डॉक्टरों को मेडिकल किट दिए हैं और गॉगल्स की कमी है इनके स्थान पर फेस शील्ड दी गई हैं। उन्होंने दावा किया है कि एनडीएमए की ओर से 50000 से अधिक एन-95 मास्क कर्मचारियों के बीच वितरित किए जा चुके हैं। पाकिस्तान में अभी तक 3652 लोग कोरोनावायरस से संक्रमित हुए हैं और 52 लोगों की मौत हो गई है। जबकि वैश्विक स्तर पर संक्रमित लोगों का आंकड़ा 12 लाख के पार हो गया है और 47000 लोगों की मौत हो गई है। (हि.स.)

Share it
Top