Top
Home » आपके पत्र » स्वर्गीय के. नरेन्द्र जी को भावपूर्ण श्रद्धांजलि

स्वर्गीय के. नरेन्द्र जी को भावपूर्ण श्रद्धांजलि

👤 Veer Arjun Desk 4 | Updated on:6 May 2019 5:48 PM GMT
Share Post

मुझे व मेरे जैसे दैनिक वीर अर्जुन, सांध्य वीर अर्जुन व डेली प्रताप के जागरूक देश-विदेश के लाखों-करोड़ों जागरूक पाठकों का पता चला कि 24 अप्रैल को राजधानी दिल्ली से प्रकाशित दैनिक वीर अर्जुन परिवार के मुख्य संपादक श्री अनिल नरेन्द्र जी ने समाजसेवी, देशभक्त, लेखक पत्रकार, संपादक डेली प्रताप, वीर अर्जुन व सांध्य वीर अर्जुन के वरिष्ठ स्तम्भ लेखक संपादक श्री के. नरेन्द्र जी की 106वीं पुण्यतिथि कार्यालय में मनाकर उनकी सेवा त्याग व समाज व देश के प्रति उल्लेखनीय सेवाओं को याद करते हुए उन्हें आयोजित समारोह में भावपूर्ण श्रद्धांजलित अर्पित की। इससे हम सब लाखों-करोड़ों पाठकों, लेखकों, पत्र लेखकों, बुद्धिजीवियों व समाजसेवी संगठनों को गर्व महसूस हुआ। याद रहे कि मैं दैनिक वीर अर्जुन, सांध्य वीर अर्जुन का नियमित अनेकोंनेक सालों से पाठक रहा हूं तथा प्रधान संपादक श्री अनिल नरेन्द्र जी के संपादकीय लेख व संपादक पत्रकार व स्तम्भ लेखक श्री के. नरेन्द्र जी के महत्वपूर्ण लेखों को बराबर पढ़ता आ रहा हूं। उनकी निष्पक्षता, निडरता, स्वतंत्रता, सोच व सच्चाई पर आधारित लोकतंत्र हित हेतु लेखों व संपादकीय लेखों से बहुत प्रभावित रहा हूं। मैं उनकी पुण्य तिथि पर समय-समय पर संपादक के नाम पत्र लिखखर उनकी सेवा, त्याग व मिशन पत्रकारिता के पथ पर देश को प्रगति के पथ पर लाने के प्रयास की सराहना कर उनको भावपूर्ण श्रद्धांजलि अर्पित करता रहता हूं। मैं राजधानी दिल्ली की समस्त सामाजिक संगठनों की ओर से व राष्ट्रवादी सामाजिक संगठन समिति की ओर से व दैनिक वीर अर्जुन के पाठकों, लेखकों, पत्र लेखकों व साहित्यकारों, संपादकों, कलाकारों, कवियों की ओर से मिशन पत्रकारिता व वीर अर्जुन व डेली प्रताप के भीष्म पितामह श्री के. नरेन्द्र जी की 106वीं पुण्यतिथि पर भावपूर्ण श्रद्धांजलि व शत्-शत् नमन् करता हूं। उनका विश्व की पत्रकारिता में उल्लेखनीय योगदान हमेशा याद रहेगा।

-देशबंधु,

उत्तम नगर, नई दिल्ली।

भारत पाक से बदले की कार्रवाई करने को तैयार

एक लंबे अरसे से भारत-पाक में तनातनी चल रही है। कारण है आतंकवाद का। हमारे पीएम श्री मोदी ने पाकिस्तान को बता दिया है कि भारत अब सोच-विचार करने वाला देश नहीं रहा। वह अब कार्रवाई करने में यकीन करने वाला देश बन चुका है। श्री मोदी ने हाल ही में कहा कि यदि पाक हमारे पायलट अभिनंदन को नहीं छोड़ता तो वह रात कत्ल की रात होती यानि उस दिन पाकिस्तान पर बमबारी होती और फिर पाकिस्तान का क्या हाल होता बताने की जरूरत नहीं। उनका यह बयान सुनकर हमारा सीना भी 56 इंच का हो गया लेकिन कुछ लोगों को उनका यह बयान रास नहीं आया। ऐसे लोगों में सबसे आगे है महबूबा मुफ्ती। पाकिस्तानी प्रतिनिधि की तरह बात करते हुए महबूबा जी फरमाती हैं कि पाकिस्तान ने परमाणु बम ईद के लिए नहीं रखे हुए यानि उन्हें पाकिस्तान की रक्षा और खैरियत की ज्यादा चिन्ता है भारत की नहीं। हालांकि किसी सज्जन ने यह भी साफ कर दिया कि भारत ने भी परमाणु बम दीपावली के लिए नहीं रखे हैं। खबरें तो यहां तक भी है कि भारत ने सीमा पर मिसाइलें तैनात कर दी थीं। पाकिस्तान भारत की तैयारी और तेवर दोनों देखकर इस नतीजे पर पहुंच चुका था कि मामला खतरे से खाली नहीं है। सारी दुनिया के आगे अपना दुखड़ा रोने के बाद पाकिस्तान समझ गया था कि उसकी कोई सुनने को तैयार नहीं, इसलिए बेहतर होगा कि भारतीय पायलट को रिहा कर ही दिया जाए और वह पायलट रिहा भी मोदी जी के डर की वजह से हुआ था। इस बात में कोई संदेह नहीं था। कश्मीर के नेता चाहे वह महूबबा हो या उमर अब्दुल्ला या उनके अब्बा जान जब भी बोलते हैं भारत के खिलाफ ही बोलते हैं। उन्हें यह पता है कि उनके खिलाफ कार्रवाई करने की ताकत किसी में नहीं है। लेकिन सच कहूं तो अब उन्हें इस गलतफहमी में नहीं रहना चाहिए। 70 सालों से किसी भी पीएम या सरकार में इतनी ताकत नहीं थी कि वह अलगाववादियों की सुरक्षा में लगे जवानों को हटाते। उनकी सम्पत्तियां कुर्प करते। लेकिन अब यह सब हो रहा है। वह दिन भी दूर नहीं जब यह सब अलगाववादी जेलों में होंगे और वहीं दम तोड़ देंगे या फिर इन्हें किसी काम का न पाकर आतंकवादी ही ठिकाने लगा देंगे। यदि भगवान न करे इन नेताओं पर हमला हुआ तो वह किसे दोष देंगे।

-इंद्र सिंह धिगान,

किंग्जवे कैंप, दिल्ली।

नारियल भी प्राकृतिक गुणों से भरपूर है

नारियल को आप खा सकते हैं, उसका ऑयल यूज कर सकते हैं और इसे खाने में भी यूज कर सकते हैं। नारियल में विटामिन, डाइटरी फाइबर और मिनरल्स का सम्पूर्ण मिश्रण है। पुराने समय में नारियल को ट्रेडिशनल मेडिसिन के रूप में भी यूज किया जाता था और आज भी स्किन पर लगे निशान को खत्म करने के लिए नारियल के तेल का इस्तेमाल किया जाता है। तो चलिए आज हम आपको नारियल के छुपे गुणों से अवगत कराते हैं। नारियल में सोडियम की मात्रा कम और पोटैशियम की मात्रा अधिक होती है। जिन लोगों को हाई ब्लड प्रेशर की दिक्कत है, उनके लिए यह काफी फायदेमंद है। नारियल फैट और लूस फी होता है और इसमें डाइटरी फाइबर अधिक होता है, जो दिल के लिए अच्छा होता है। नारियल खाने से आपका कोलेस्ट्रॉल नहीं बढ़ता और शरीर में कहीं चोट या जलने के निशान को दूर करने के लिए नारियल सबसे बेहतर दवाई है। दिन में थकान या स्ट्रेस होने पर नारियल खा सकते हैं। नारियल पानी पीने से आपको राहत मिलेगी। शरीर में एनर्जी बनाए रखने के लिए नारियल पानी सबसे बेहतर स्रोत है जो आपकी फिजिकल एनर्जी को बनाए रखता है। अगर आपको लंबे समय से थकान की समस्या है तो आप नारियल पानी पीना शुरू करें, जल्द ही इससे निजात मिलेगी। नारियल में प्राकृतिक स्रोत होने की वजह से बाहरी इंफेक्शन से बचाने में मदद करता है। इसके अलावा नारियल में एंटीफंगल और एंटीवायरल गुण भी पाए जाते हैं।

-नरेश कुमार,

आजादपुर, दिल्ली।

 इस्लामाबाद में कोरोना का कहर जारी, 14 अप्रैल तक लॉकडाउन

इस्लामाबाद में कोरोना का कहर जारी, 14 अप्रैल तक लॉकडाउन

इस्लामाबाद। पाकिस्तान की राजधानी इस्लामाबाद में कोरोना से आज पहली मौत हुई है। इस्लामाबाद सरकार ने आठ दिनों के लिए लागू लॉकडाउन को और आठ दिनों के लिए...

 कोरोना वायरस पर गुरुवार को चर्चा करेंगे संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के सदस्य देश

कोरोना वायरस पर गुरुवार को चर्चा करेंगे संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद के सदस्य देश

नई दिल्ली। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद ने पहली बार कोविड-19 महामारी पर चर्चा करने का निर्णय लिया है। संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद कोविड-19 महामारी...

 शेख मुजीबुर्रहमान की हत्या के भगोड़ा अपराधी अब्दुल माजेद गिरफ्तार

शेख मुजीबुर्रहमान की हत्या के भगोड़ा अपराधी अब्दुल माजेद गिरफ्तार

ढाका । बंगबंधू शेख मुजीबुर्रहमान की हत्या करने में शामिल भगोड़े अपराधी अब्दुल माजेद को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।ढाका के चीफ मेट्रोपोलिटेन...

 जापान में आपातकाल और 1 ट्रिलियन डॉलर का प्रोत्साहन पैकेज घोषित

जापान में आपातकाल और 1 ट्रिलियन डॉलर का प्रोत्साहन पैकेज घोषित

टोक्यो। कोरोनावायरस के प्रसार को रोकने के लिये टोक्यो और छह अन्य प्रान्तों में जापान आपातकालीन स्थिति को लागू करने वाला है। इसके साथ ही सरकार ने 990...

 ब्लूचिस्तान में पीपीई की मांग करते हुए डॉक्टरों, मेडिकल स्टाफ के लोग गिरफ्तार

ब्लूचिस्तान में पीपीई की मांग करते हुए डॉक्टरों, मेडिकल स्टाफ के लोग गिरफ्तार

इस्लामाबाद । ब्लूचिस्तान में सोमवार को पीपीई की मांग करते हुए डॉक्टरों, मेडिकल स्टाफ के सदस्यों को गिरफ्तार किया है। ये लोग पर्सनल प्रोटेक्टिव...

Share it
Top