Top
Home » हरियाणा » पानीपत थर्मल मे लगी भयंकर आग

पानीपत थर्मल मे लगी भयंकर आग

👤 | Updated on:15 March 2010 8:07 AM GMT
Share Post

  पानीपत, जागरण संवाद केंद्र : पानीपत थर्मल पावर स्टेशन की यूनिट नंबर दो में रविवार देर सायं आग लग गई। आग इतनी भयंकर थी कि उस पर दमकल गाड़ियां दो घंटे में काबू पा सकीं। थर्मल की तीन यूनिटें बंद होने से प्रदेश में बिजली आपूर्ति पर असर पड़ेगा। वहीं हरियाणा पावर जेनरेशन कारपोरेशन लिमिटेड के निदेशक एसपी छिंदा ने घटनास्थल का दौरा करके अधिकारियों से चर्चा की। हादसे में किसी जानी नुकसान की सूचना नहीं है। इंजीनियर देर रात तक नुकसान का आकलन करने में जुटे रहे। 110 मेगावाट क्षमता की यूनिट दो के टरबाइन फ्लोर के नीचे टैंक में साढ़े सात बजे आग लग गई। आग पर काबू पाने के लिए समालखा, पानीपत तथा रिफाइनरी की फायर ब्रिगेड गाड़ियों को बुलाया गया। आनन-फानन में यूनिट दो को बंद किया गया। करीब दो घंटे की कोशिश के बाद आग बुझाई जा सकी। देर रात एचपीजीसीएल के निदेशक एसपी छिंदा थर्मल में पहुंच गए। उन्होंने जली यूनिट का निरीक्षण करके अधिकारियों से चर्चा की। उन्होंने बताया कि सबसे पहले थर्मल प्रबंधन का प्रयास आग बुझाने तथा जनहानि रोकने का था। आग पर काबू पा लिया गया तथा इस घटना में कोई जानी नुकसान नहीं हुआ। एचपीजीसीएल के एमडी संजीव कौशल ने बताया कि नुकसान का आकलन किया जा रहा है। चीफ इंजीनियर वीके चावला ने बताया कि आग पर नौ बजे के करीब काबू पा लिया गया। यूनिट को कितना नुकसान हुआ इसकी जांच की जा रही है। इस प्रकार अब थर्मल की पुरानी चार यूनिटों में से तीन यूनिटों में उत्पादन ठप हो गया है। यूनिट नंबर तीन पिछले दो माह से ठप पड़ी है। वहीं यूनिट नंबर एक दस दिन से ठप पड़ी है। यूनिट नंबर दो में आग लगने से 337.8 मेगावाट बिजली का उत्पादन ठप हो गया है। जिससे उपभोक्ताओं को गर्मियों में परेशानी झेलनी पड़ सकती है।  

Share it
Top