Top
Home » दिल्ली » छात्र प्रद्युम्न ठाकुर की हत्‍या में शामिल दूसरे शख्‍स के रहस्‍य से उठ गया परदा

छात्र प्रद्युम्न ठाकुर की हत्‍या में शामिल दूसरे शख्‍स के रहस्‍य से उठ गया परदा

👤 Veer Arjun Desk | Updated on:15 Sep 2017 11:21 AM GMT

छात्र प्रद्युम्न ठाकुर की हत्‍या में शामिल दूसरे शख्‍स के रहस्‍य से उठ गया परदा

Share Post

गुरुग्राम । रेयान इंटरनेशनल स्कूल के छात्र प्रद्युम्न की हत्या मामले में लगातार नाकटीय मोड़ आ रहे हैं। इस प्रकरण में जिस तरह से आराेपी अशोक ने अचानक पुलिस के समक्ष प्रकट होकर अपना जुर्म कबूल लिया, ऐसे में लोगों का संदेह होना लाजमी था।
परिजनों को लगा कि दाल में कुछ काला जरूर है। जांच टीम के तब झटका लगा, जब इस हत्‍या में एक और शख्‍स के शामिल होने की चर्चा तेज हो गई। फ‍िलहाल एसआइटी ने जांच के बाद इस दूसरे शख्‍स का सच बता दिया है। जानिए एसआइटी टीम का सच क्‍या है।
एसआइटी ने पूरी की जांच
बता दें कि रेयान इंटरनेशनल स्कूल के छात्र प्रद्युम्न की हत्या मामले की जांच एसआइटी ने पूरी कर ली है। तीन से चार दिनों के भीतर चार्जशीट दाखिल कर दी जाएगी। जांच के मुताबिक हत्या में केवल बस कंडक्टर अशोक ही शामिल था। इसके अलावा किसी दूसरे की किसी भी स्तर पर भूमिका नहीं है।
हत्या के पीछे बड़ी साजिश
हालांकि पीड़ित के पिता वरुणचंद ठाकुर जांच से सहमत नहीं हैं। उनका कहना है कि बस कंडक्टर आखिर उनके बेटे को क्यों मारेगा। यदि कंडक्टर कुछ गलत भी कर रहा था तो सात साल के बच्चे को क्या समझ में आएगा। केवल आंख दिखाने पर ही बच्चा डर जाता। उसकी निर्दयता से हत्या करने की क्या आवश्यकता थी। निश्चित रूप से हत्या के पीछे कोई बड़ी साजिश है जिसकी जांच सीबीआइ से ही होनी चाहिए।
पुलिस जांच के मुताबिक प्रद्युम्न अपनी कक्षा में जाने की बजाय सीधे बाथरूम पहुंच गया था। उस समय बाथरूम में केवल बस सहायक अशोक था। वह बस के टूल बॉक्स से चाकू निकालकर धोने के लिए पहुंचा था लेकिन वहां पहुंचने के बाद वह गंदी हरकत करने लगा। इसे प्रद्युम्न ने देख लिया था।
बच्चा बाहर जाकर बता न दे, इस भय से उसने पीछे से पकड़कर उसका गला रेत दिया। पहली बार में चीख निकली लेकिन दूसरी बार जब वार किया तो आवाज बंद हो गई। इस वजह से बच्चा बाथरूम से बाहर तड़पता हुआ आया लेकिन उसकी आवाज कोई सुन नहीं सका। एक से दो मिनट बाद ही माली हरपाल बाथरूम के नजदीक पहुंचा तो उसने स्कूल प्रबंधन को सूचना दी।

Tags:    
Share it
Top