Home » मध्य प्रदेश » संवाद एवं सकारात्मकता से बड़ी से बड़ी समस्या का हल निकाला जा सकता है ः कलेक्टर सिंह

संवाद एवं सकारात्मकता से बड़ी से बड़ी समस्या का हल निकाला जा सकता है ः कलेक्टर सिंह

👤 Veer Arjun Desk 4 | Updated on:2018-05-23 15:00:59.0
Share Post

नागदा, (मप, ब्यूरो)। सकारात्मकता एवं संवाद के बल पर हर समस्या का निराकरण निकाला जा सकता है, चाहे वह समस्या फिर कितनी ही बडी क्यों न हो। मालवा को शांति का टापू कहा जाता है यहाँ सभी धर्मो के लोग अपने-अपने त्यौहार आपसी भाईचारे एवं सौहार्दपूर्ण तरीके से मनाते हैं। आगामी त्यौहारों को भी भाईचारे एवं शांति के साथ मनाया जाए इसी उद्देश्य एवं कृषकों की समस्याओं के निराकरण हेतु आज जनसंवाद कार्यत्रढम का आयोजन रखा गया है जिसमें सभी अपनी बात खुल कर रख सकते हैं।

यह बात स्थानिय कम्युनिटी हॉल में जनसंवाद कार्यत्रढम को संबोधित करते हुए जिला कलेक्टर मनीशसिंह ने कही। कलेक्टर सिंह ने कहा कि आगामी दिनों में किसान आंदोलन की सुगबुगाहट चल रही हैं। लोकतंत्र में सभी को विरोध करने का अधिकार है लेकिन विरोध दायरे में रहकर किया जाना चाहिए, आपके विरोध से किसी अन्य व्यक्पि को परेशानी न हो इसका भी ध्यान रखने की आवश्यकता है। आपने कहा कि किसानों को हर पकार से संतुष्ट करने का पयास कर रहे हैं। उपज के नगद भूगतान हेतु आईसीआईसीआई बैंक ने हर संभव कैश उपलब्ध करवाने का वादा किया है, तथा किसानों को नगद भूगतान हर हाल में कराया जाएगा। सोसायटी के मैनेजर आदि ठीक से कार्य करें इसको सुनिश्चित किया जा रहा है। साथ ही कानून व्यवस्था को लेकर जिलाबदर, रासूका की कार्रवाई जैसे निर्णय पुलिस अधीक्षक स्वयं लेंगे वह जिसे समाज के लिए ठीक नहीं समझेंगे उसके विरूद्ध जिलाबदर कर रासूका की कार्रवाई की जाएगी। साथ ही नगर की विभिन्न समस्याओं जिसमें कन्यामहाविद्यालय हेतु भूमि आवंटित करने के साथ-साथ नगर पालिका स्तर पर 3000 मकान बना कर देने का लक्ष्य रखा गया है जो जल्द ही पूर्ण कर लिया जाएगा। साथ ही आने वाले दिनों में होने वाले किसी भी पकार के न्यूसेंस से सख्ती से निपटा जाएगा।
जन संवाद कार्यत्रढम को संबोधित करते हुए पुलिस अधीक्षक सचिन अतुलकर ने कहा कि नागदा का माहौल सौहार्दपूर्ण होकर पुलिस अधिकारियों एवं जनता के बीच अच्छा समन्वय है। आपने कहा कि आगामी 1 जून से पारंभ होने वाले किसान आंदोलन को लेकर हर पकार की जानकारी पशासन से साझा करें जिससे की होने वाले उपदव एवं न्यूसेंस को रोका जा सके। एसपी अतुलकर ने कहा कि विगत दिनों दलित आंदोलन के समय भी नागदा ने एक बेहतर संदेश पुरे पदेश में दिया है। यहाँ सभी वर्ग के लोग आपसी भाईचारे के साथ रहते हैं। पुलिस अधीक्षक ने सोश्यल मिडिया पर चल रहे गलत सामग्री के आदान पदान को लेकर भी नागरिकों को सजग रहने की सलाह दी। उन्होंने कहा कि कई पकार के फोटो या विडियो वॉट्सएप एवं फेसबुक आदि पर आते हैं लेकिन वह सभी सही नहीं होते, सभी को पायोजित रूप से बनाया जाता है, लेकिन हर नागरिक इस बात को नहीं समझ पाता तथा उन्हें सही समझ कर अपने विचारों को उन्हीं पर केन्दीत कर देता है तथा इसी का फायदा असामाजिक तत्व उठा रहे हैं।

Share it
Top