Top
Home » देश » बिहार : नौंवी की एक छात्रा से गैंगरेप और हत्‍या के तीन आरोपी पकड़ाए, गुनाह भी कबूला

बिहार : नौंवी की एक छात्रा से गैंगरेप और हत्‍या के तीन आरोपी पकड़ाए, गुनाह भी कबूला

👤 Veer Arjun | Updated on:13 Feb 2020 9:39 AM GMT

बिहार : नौंवी की एक छात्रा से गैंगरेप और हत्‍या के तीन आरोपी पकड़ाए, गुनाह भी कबूला

Share Post

बिहार । बिहार के गोपालगंज जिले के बरौली थाना क्षेत्र के देवापुर गांव के प्लस टू हाई स्कूल की नौंवी की एक छात्रा प्रियंका कुमारी की स्कूल कैंपस में ही गैंगरेप के बाद हत्या करने का सनसनीखेज मामला सामने आया है। पुलिस ने बरौली के देवापुर हाई स्कूल में हुई छात्रा की निर्मम हत्याकांड का महज 24 घंटे के अंदर खुलासा करने का दावा किया है। पुलिस ने इस हत्याकांड में नौवीं की छात्रा प्रियंका कुमारी की हत्या में पुलिस ने मृतका के प्रेमी और उसके दो दोस्तों सहित तीनों आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपितों ने छात्रा की हत्या करने की बात स्वीकार कर ली है।

यहां बता दें कि बिहार के गोपालगंज जिले के बरौली थाना क्षेत्र के देवापुर गांव के प्लस टू हाई स्कूल की नौंवी की एक छात्रा के शव को सोमवार की देर शाम स्कूल के ही एक कमरे से बरामद किया गया था। एसपी मनोज तिवारी व सदर एसडीपीओ ने घटनास्थल पर पहुंच मामले की तफ्तीश की।

एसपी मनोज तिवारी ने बताया कि छात्रा के चचेरे भाई ने कमरे में पंखे से झूल रहे उसके शव को उतार कर पुलिस को करीब डेढ़ घंटे बाद इसकी सूचना दी। परिजनों के अनुसार छात्रा सुबह करीब नौ बजे स्कूल गई थी। शाम तक नहीं लौटने पर उसकी तलाश शुरू की गई तो स्कूल के कमरे में पंखे से लटका उसका शव दिखा। उसके मुंह व हाथ भी बंधे थे। इस मामले में देवापुर गांव के जयकुमार पटेल के पुत्र अंकित कुमार (18 वर्ष), हरेश पटेल के पुत्र निरंजन पटेल उर्फ भुवर (23 वर्ष) तथा 17 साल के एक नाबालिग किशोर को गिरफ्तार किया गया है।

उन्होंने बताया कि अंकित कुमार का छात्रा के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था, घटना के दिन छात्रा अपने क्लास रूम में थी। सभी छात्र-छात्राएं स्मार्ट क्लास के लिए दूसरी बिल्डिंग में चले गये थे। छात्रा को अकेला पाकर अंकित दो मंजिले भवन के क्लास रूम में पहुंच गया। अंकित को जाते देख देवापुर गांव के निरंजन पटेल उर्फ भुवर व नाबालिग युवक भी पहुंच गये।

यहां की हरकत को देख निरंजन पटेल उर्फ भुवर व नाबालिग युवक वीडियो बनाने लगे। मोबाइल से वीडियो बनाते देख अंकित ने मना किया, जिस पर दोनों युवकों ने भी छात्रा के साथ अश्लील हरकत करनी शुरू कर दी, जिसका विरोध छात्रा के प्रेमी ने नहीं किया। इसके बाद उसकी हत्या कर दी गई।

एसपी ने बताया कि वारदात को अंजाम देने के बाद पुलिस को गुमराह करने के लिए छात्रा के नाम से भोजपुरी में एक लेटर लिखा था, जिसमें खुद को बेकसूर बताया था। पुलिस के मुताबिक, आरोपितों ने सुसाइड का रूप देने के लिए पूरी कोशिश की थी। हत्याकांड के पहले छात्रा के साथ तीनों आरोपियों ने दुष्कर्म किया, फिर उसके हाथ-पैर बांधकर उसकी बेरहमी से हत्या कर दी। आरोपियों ने शव को क्‍लास में ही फंदे से लटका दिया था। गिरफ्तार तीनों आरोपी उसी स्कूल के छात्र हैं, जहां से लड़की की लाश बरामद की गई।

सदर एसडीपीओ नरेश पासवान ने बताया कि बरौली के देवापुर स्थित अपग्रेड हाई स्कूल में 9वीं क्लास की छात्रा प्रियंका कुमारी (काल्पनिक नाम) की हत्या कर दी गई थी। तीनों आरोपियों को 24 घंटे के अंदर गिरफ्तार कर उनसे पूछताछ की गई। इस दौरान तीनों ने अपना जुर्म भी कबूल लिया है।

एसडीपीओ ने बताया की मृतका का पूर्व से ही एक लड़के (जो कि इस वारदात में भी शामिल है) के साथ प्रेम-प्रसंग चल रहा था। वे दोनों अक्‍सर स्कूल कैंपस में ही मिलते थे। गत 11 फरवरी को भी पीडिता अकेले में मिल रही थी। इसी दौरान उसके प्रेमी के दो दोस्तों ने भी दोनों को अकेले में मिलते हुए देख लिया। इसके बाद दोनों ने छात्रा से दुष्कर्म किया। इस दौरान विरोध करने पर किशोरी के हाथ-पैर को बांध दिए गए और उसकी हत्‍या कर दी गई।

सदर एसडीपीओ ने बताया कि पुलिस अभी एफएसल और पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार कर रही है, ताकि गैंगरेप के बाद हत्या की पूरी तस्वीर साफ हो सके। इस घटना के बाद अभी भी इलाके के लोग दहशत में हैं। हत्या की इस घटना के बाद स्कूल दूसरे दिन भी बंद रहा। इस बीच, अरोपियों के खिलाफ कडी करवाई की मांग उठने लगी है। पुलिस ने इस हत्याकांड को सुलझा लेने का दावा किया है।

Share it
Top