Top
Home » देश » असम के 4 जिलों के 10 हजार से अधिक लोग बाढ़ से प्रभावित

असम के 4 जिलों के 10 हजार से अधिक लोग बाढ़ से प्रभावित

👤 Veer Arjun | Updated on:25 May 2020 7:25 AM GMT

असम के 4 जिलों के 10 हजार से अधिक लोग बाढ़ से प्रभावित

Share Post

गुवाहाटी । कोरोना महामारी के बीच असम बाढ़ की आपदा से भी त्रस्त हो गया है। चक्रवाती तूफान अम्फन के आने के साथ ही असम समेत पूरे पूर्वोत्तर में बारिश शुरू हो गया है। मौसम विभाग का कहना है कि अभी यह बारिश अगले कुछ दिनों तक जारी रहेगी। लगातार बारिश के कारण असम के चार जिलों के कई गांव बाढ़ के पानी में घिर गए हैं।

राज्य आपदा विभाग (एएसडीएमए) की ओर जारी आंक़ड़ों के अनुसार असम के चार जिलों के सात सर्किल के कई गांव जलमग्न हो गए हैं। तथ्यों के अनुसार लखीमपुर जिला के तीन सर्किल, ग्वालपारा जिला के दो सर्किल, शोणितपु जिला और दरंग जिला के एक-एक सर्किल के कुल 46 गांवों में बाढ़ का पानी प्रवेश कर चुका है। हालांकि कुछ और भी जिले जैसे नगांव, बरपेटा, कामरूप आदि जिलों में भी बाढ़ से काफी परेशानी उत्पन्न हुई है।

लखीमपुर जिले में रंगा नदी पर बने नीपको के जलविद्युत प्रकल्प से छोड़े गए पानी के कारण नाउबेचा और बिहपुरिया सर्किल के कई गांव जलमग्न हो गए हैं। अरुणाचल प्रदेश के यजाली में स्थित रंगा नदी बांध से पानी छोड़े जाने पर महज तीन घंटे के अंदर ही लखीमपुर जिला में पानी पहुंच जाता है।

वहीं जियाभराली नदी का जलस्तर भी खतरे के निशान से ऊपर बह रहा है, जिसके चलते शोणितपुर जिला के कई गांव जलमग्न हो गए हैं। वहीं ग्वालपारा जिला में पड़ोसी राज्य मेघालय के गारो पहाड़ से आने वाले बारिश के पानी से कई गांव जलमग्न हो गए हैं।

ग्वालपारा जिला के कृष्णाई, दुधनै, जिनारी, देउशिला आदि नदियों का जलस्तर काफी तेजी से बढ़ गया है, जिसके चलते जिला के कई गांवों में बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हो गई है। बड़े पैमाने पर खेती को भी नुकसान हुआ है। वहीं आगिया और लखीपुर को जोड़ने वाले मुख्य सड़क के ऊपर से गारो पहाड़ से आने वाला पानी बह रहा है, जिसकी वजह से सड़क टूट गई है।

राज्य में आई पहली बाढ़ के दौरान 10 हजार से अधिक लोग बाढ़ से प्रबावित हुए हैं। वहीं 23 हजार से अधिक पशुओं को भी उनके मालिक ऊंचाई वाले स्थानों पर ले जाने के लिए मजबूर हुए हैं। वहीं मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने जिला प्रशासन और विभागीय अधिकारियों से बाढ़ प्रभावित इलाकों में राहत अभियान चलाने और लोगों की मदद करने का निर्देश दिया है।

 नवाज शरीफ को जेल भेजने वाले जज की छुट्टी

नवाज शरीफ को जेल भेजने वाले जज की छुट्टी

नई दिल्ली। पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ को सजा सुनाकर जेल भेजने वाले स्पेशल कोर्ट के जस्टिस अरशद मलिक को लाहौर हाईकोर्ट ने उनको उनके पद...

 जीन कास्टेक्स बने फ्रांस के नए प्रधानमंत्री

जीन कास्टेक्स बने फ्रांस के नए प्रधानमंत्री

नई दिल्ली। फ्रांस के प्रधानमंत्री एडवर्ड फिलिप के इस्तीफा देने के बाद जीन कास्टेक्स को नया प्रधानमंत्री चुना गया है। जीन कास्टेक्स 55 वर्ष के हैं और...

 पाकिस्तान में दो पत्रकारों को किया गया प्रताड़ित

पाकिस्तान में दो पत्रकारों को किया गया प्रताड़ित

नई दिल्ली । पाकिस्तान के दक्षिण पश्चिमी ब्लूचिस्तान प्रांत में एकांतवास केंद्र (कोरंटीन सेंटर) को कवर करने गए दो पत्रकारों का पैरा मिलिट्री फोर्स ...

 अब हांगकांग के लोगों को नागरिकता देने पर चीन भड़का ब्रिटेन पर

अब हांगकांग के लोगों को नागरिकता देने पर चीन भड़का ब्रिटेन पर

नई दिल्‍ली। अमेरिका, भारत और आस्‍ट्रलिया द्वारा हांगकांग के लोगों को नागरिकता देने पर चीन पूरी तरह आगबबूला हो गया है, यही वजह है कि हांगकांग में...

 बीजिंग ने भारतीय उत्पादों को लेकर कोई भेदभावपूर्ण पूर्ण कदम नहीं उठाया : गाओ फेंग

बीजिंग ने भारतीय उत्पादों को लेकर कोई भेदभावपूर्ण पूर्ण कदम नहीं उठाया : गाओ फेंग

नई दिल्ली। भारत सरकार की ओर से चीन के 59 एप पर प्रतिबंध लगाए जाने के बाद गुरुवार को चीन के वाणिज्य मंत्रालय ने बयान जारी कर बताया कि चीन की ओर से...

Share it
Top