Top
Home » देश » प्रणब मुखर्जी की हालत में कोई सुधार नहीं, सोशल मीडिया पर निधन की अफवाह

प्रणब मुखर्जी की हालत में कोई सुधार नहीं, सोशल मीडिया पर निधन की अफवाह

👤 Veer Arjun | Updated on:13 Aug 2020 4:54 AM GMT

प्रणब मुखर्जी की हालत में कोई सुधार नहीं, सोशल मीडिया पर निधन की अफवाह

Share Post

नई दिल्ली । सेना के अस्पताल में भर्ती कोरोना संक्रमित पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की हालत लगातार तीसरे दिन गुरुवार को भी गंभीर बनी हुई है। वह ब्रेन सर्जरी के बाद से वेंटिलेटर पर हैं। इस बीच सोशल मीडिया पर उनके निधन की अफवाह वायरल हो रही है। इस पर उनकी बेटी और कांग्रेस नेता शर्मिष्ठा मुखर्जी ने कहा कि पूर्व राष्ट्रपति की मौत की खबर झूठी है।

सेना के रिसर्च और रेफरल (आरएंडआर) अस्पताल, दिल्ली कैंट ने गुरुवार को पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी का स्वास्थ्य बुलेटिन जारी कर बताया कि प्रणब मुखर्जी की हालत में लगातार तीसरे दिन कोई सुधार देखने को नहीं मिला है। उनकी हालत चिंताजनक बनी हुई है और अभी उन्हें वेंटिलेटर पर ही रखा जा रहा है।

84 वर्षीय प्रणब मुखर्जी को गंभीर हालत में 10 अगस्त को 12 बजे अस्पताल में भर्ती कराया गया था। अस्पताल में जांच के दौरान मस्तिष्क में खून के थक्के होने की बात सामने आई और इसके बाद उनकी आपातकालीन जीवनरक्षक सर्जरी हुई थी। सर्जरी के बाद वह वेंटिलेटर पर हैं और उनकी स्थिति अब भी गंभीर हैं। वह कोरोना पॉजिटिव भी हैं।

सोशल मीडिया पर निधन की फेक न्यूज

सोशल मीडिया पर प्रणव मुखर्जी के निधन की अफवाह वायरल हो रही है। इस पर उनकी बेटी और कांग्रेस नेता शर्मिष्ठा मुखर्जी ने कहा कि पूर्व राष्ट्रपति की मौत की खबर झूठी है।

उन्होंने ट्वीट किया, मेरे पिता के बारे में अफवाहें झूठी हैं। उन्होंने लोगों से विशेषकर मीडिया से उनके फोन पर कॉल नहीं करने का अनुरोध करते हुए कहा कि वह अस्पताल से कोई भी नई जानकारी प्राप्त करने के लिए अपने फोन को खाली रखना चाहती हैं।

उनके बेटे अभिजीत मुखर्जी ने ट्वीट किया कि उनके पिता प्रणब मुखर्जी अभी भी जीवित हैं और उनकी हालत स्थिर है। उन्होंने फेक न्यूज को लेकर मीडिया पर नाराजगी जताते हुए कहा, प्रतिष्ठित पत्रकारों द्वारा सोशल मीडिया पर प्रसारित की जा रही अटकलों और फर्जी खबरों से साफ जाहिर होता है कि भारत में मीडिया फेक न्यूज का कारखाना बन गया है।

Share it
Top