Top
Home » देश » केन्‍द्र सरकार से आरपार की लड़ाई लड़ने के मूड़ में किसान, करवाया मुंडन

केन्‍द्र सरकार से आरपार की लड़ाई लड़ने के मूड़ में किसान, करवाया मुंडन

👤 Veer Arjun | Updated on:12 Dec 2020 9:17 AM GMT

केन्‍द्र सरकार से आरपार की लड़ाई लड़ने के मूड़ में किसान, करवाया मुंडन

Share Post

चंडीगढ़ । केंद्रीय कृषि कानूनों को रद्द करवाने के लिए किसान केंद्र सरकार से आरपार की लड़ाई लड़ने के मूड़ में हैं। पलवल में शनिवार को केएमपी (कुंडली-मानेसर-पलवल) पर धरने पर बैठे किसानों ने मुंडन करवाकर केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। बहरहाल, किसान सरकार को घेरने के साथ कारपोरेट घरानों के खिलाफ भी रणनीति को अमलीजामा पहनाने में जुटे हुए हैं।

किसान संगठनों की ओर से फैसला लिया गया है कि जिओ सिम को पोर्ट करवाने के साथ रिलायंस के सभी उत्पादों का बहिष्कार किया जाएगा। इसी कड़ी में शनिवार को हरियाणा के कई जिलों में किसानों ने रिलायंस मॉल और पेट्रोल पंपों का घेराव किया। किसानों के रोष को देखते हुए सभी जगह सुरक्षा व्यवस्था कड़ी रही। हालांकि किसानों ने शांतिपूर्ण तरीके से रिलायंस पेट्रोल पंपों के सामने धरना दिया। सिरसा में किसानों के आने की सूचना से पहले ही रिलायंस मॉल को पहले ही बंद कर दिया गया था। इसके साथ ही फतेहाबाद में किसानों ने रिलायंस पेट्रोल पंप का घेराव किया और केंद्र सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। किसानों के रोष को देखते हुए सभी जगहों पर सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए थे। एहतियात के तौर पर कई जिलों में पहले ही रिलायंस मॉल को बंद कर दिया गया था।

दूसरी ओर पलवल केएमपी-केजीपी (कुंडली-मानेसर-पलवल-कुंडली-गाजियाबाद-पलवल) इंटरचेंज पर चल रहे धरने पर किसान संगठनों के नेताओं ने पहुंचकर स्थिति का जायजा लिया। धरनारत किसानों ने कृषि कानूनों को रद्द करवाने की मांग को लेकर अपना मुंडन करवाया और केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। धरना स्थल पर महाराष्ट्र के शिक्षा मंत्री बच्चू कडू, समाजसेवी मेघा पाटेकर, चरखी-दादरी से निर्दलीय विधायक सोमवीर सांगवान पहुंचे। इसके अलावा किसान नेता जगजीत सिंह, शिव कुमार कक्का व गुरनाम सिंह चढूनी भी वहां पहुंचे। जगजीत सिंह ने बताया कि 14 दिसम्बर को देशभर में किसान जिला उपायुक्तों के बाहर कृषि कानूनों को रद्द करवाने को लेकर धरना देंगे और भाजपा के मंत्री, सांसद व विधायकों का घेराव करेंगे।

Share it
Top