Top
Home » देश » किसान आंदोलन : हरियाणा पुलिस ने एनएच-44 पर सफर करने से बचने की दी सलाह, एडवाइजरी जारी

किसान आंदोलन : हरियाणा पुलिस ने एनएच-44 पर सफर करने से बचने की दी सलाह, एडवाइजरी जारी

👤 Veer Arjun | Updated on:22 Dec 2020 10:25 AM GMT

किसान आंदोलन : हरियाणा पुलिस ने एनएच-44 पर सफर करने से बचने की दी सलाह, एडवाइजरी जारी

Share Post

चंडीगढ़ । कृषि कानूनों के विरोध में दिल्ली सीमा में चल रही किसानों की मोर्चाबंदी से एनएच-44 पर सिंघु बॉर्डर का रास्ता 27 दिनों से बाधित है। लिहाजा यात्रियों की परेशानी को देखते हुए हरियाणा पुलिस ने दिल्ली व गुरुग्राम जाने को लेकर ट्रैफिक एडवाइजरी जारी की है। खासकर चंडीगढ़ व अंबाला की ओर से जाने वाले यात्रियों के लिए बाकायदा रूट प्लान तैयार किया गया है। इसकी एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर शेयर की गई है।

एडीजीपी नवदीप सिंह विर्क ने बताया कि दिल्ली सीमा में चल रही गतिविधियों को लेकर यात्रियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए हरियाणा पुलिस की ओर से दिल्ली व गुरुग्राम जाने वाले यात्रियों का रूट प्लान तैयार किया गया है। इस रूट प्लान का वीडियो भी तैयार किया गया है, जिसमें गुरुग्राम एयरपोर्ट से लेकर दिल्ली के अन्य हिस्सों में जाने वाले रास्तों के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई है।

चंडीगढ़ व अंबाला से दिल्ली व गुरुग्राम की ओर जाने वाले यात्री तीन रूटों से अपनी गतंव्य तक पहुंच सकते हैं। इसमें पानीपत से एनएच-71 गोहाना, रोहतक व झज्जर व फारूर्खनगर से सीधे गुरुग्राम जाया जा सकता है। गुरुग्राम से दिल्ली भी पहुंचा जा सकता है।

यात्री उत्तर दिल्ली जाना चाहते हैं तो वे राष्ट्रीय राजमार्ग-44 से होते हुए कुंडली से केजीपी कुंडली एक्सप्रेस की ओर मुड़े और गाजियाबाद टोल से मुड़कर दिल्ली के रूट पर जाया सकता है। (कुंडली-गुरुग्राम-पलवल)

इसके साथ ही यदि गुरुग्राम एयरपोर्ट व साउथ दिल्ली जाना है तो कुंडली से केएमपी एक्सप्रेस-वे (कुंडली-मानेसर-पलवल) से होते हुए मानेसर टोल से होते हुए राष्ट्रीय राजमार्ग नंबर-8 से होते हुए जाया जा सकता है।

Share it
Top