Top
Home » देश » सेना के लिए 25 एएलएच एमके-III हेलीकॉप्टर खरीदने को मिली मंजूरी

सेना के लिए 25 एएलएच एमके-III हेलीकॉप्टर खरीदने को मिली मंजूरी

👤 Veer Arjun | Updated on:30 Sep 2021 9:43 AM GMT

सेना के लिए 25 एएलएच एमके-III हेलीकॉप्टर खरीदने को मिली मंजूरी

Share Post

नई दिल्ली । रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह की अध्यक्षता में बुधवार को हुई रक्षा अधिग्रहण परिषद (डीएसी) की बैठक में आर्मी एविएशन के लिए 3,850 करोड़ रुपये की लागत से 25 एएलएच एमके-III हेलीकॉप्टरों की खरीद को मंजूरी दे दी है। इसके अलावा 4,962 करोड़ रुपये मूल्य के रॉकेट गोला-बारूद को भी मंजूरी दी गई है। बैठक में भारतीय सशस्त्र बलों के आधुनिकीकरण और परिचालन जरूरतों के लिए कुल 13,165 करोड़ रुपये के प्रस्तावों को हरी झंडी मिली है।

रक्षा मंत्रालय में आज रक्षा अधिग्रहण परिषद (डीएसी) की हुई बैठक में हेलीकॉप्टर, निर्देशित युद्ध सामग्री और रॉकेट गोला-बारूद की मंजूरियां दी गई हैं। इसमें मुख्य रूप से हिन्दुस्तान एयरोनाटिक्स लिमिटेड (एचएएल) से 'आत्मनिर्भर भारत' और 'मेक इन इंडिया' पर जोर देते हुए आर्मी एविएशन के लिए 3,850 करोड़ रुपये की लागत से 25 एएलएच एमके-III हेलीकॉप्टरों की खरीद को मंजूरी मिली है। आर्मी एविएशन में एक साल बाद महिला फाइटर पायलट भी होंगी जिसके लिए यह तैयारी की जा रही है। इसके अलावा स्वदेशी डिजाइन और गोला-बारूद के विकास को बढ़ावा देते हुए डीएसी ने घरेलू स्रोतों से लगभग 4,962 करोड़ रुपये की लागत पर टर्मिनल गाइडेड मुनिशन (टीजीएम) और एचईपीएफ/आरएचई रॉकेट गोला बारूद की खरीद के लिए मंजूरी दी है।

बैठक में भारतीय सशस्त्र बलों के आधुनिकीकरण और परिचालन जरूरतों के लिए कुल 13,165 करोड़ रुपये के प्रस्तावों को हरी झंडी मिली है। राजनाथ सिंह ने पूंजी अधिग्रहण प्रस्तावों के लिए आवश्यकता की स्वीकृति (एओएन) के लिए 4,353 करोड़ रुपये के अन्य प्रस्ताव मंजूर किये हैं। इसमें से 11,486 करोड़ (87 प्रतिशत) रुपये से खरीद घरेलू स्रोतों से की जानी है। इसके अलावा डीएसी ने उद्योग के लिए व्यापार करने में और आसानी सुनिश्चित करने के साथ-साथ खरीद दक्षता बढ़ाने और समय सीमा को कम करने के उपायों को सुनिश्चित करने के लिए बिजनेस प्रोसेस री-इंजीनियरिंग के एक हिस्से के रूप में डीएपी-2020 में कुछ संशोधनों को भी मंजूरी दी है। एजेंसी/हिस

Share it
Top