Home » उत्तर प्रदेश » डीएम ने गेहूं क्रय केन्द्र एवं कस्तूरबा विद्यालय का निरीक्षण कर व्यवस्था को परखा

डीएम ने गेहूं क्रय केन्द्र एवं कस्तूरबा विद्यालय का निरीक्षण कर व्यवस्था को परखा

👤 admin 4 | Updated on:2017-05-15 16:00:13.0

डीएम ने गेहूं क्रय केन्द्र एवं कस्तूरबा विद्यालय का निरीक्षण कर व्यवस्था को परखा

Share Post

रवि सक्सेना

बरेली । डीएम डा0 पिंकी जोवल ने मंडी समिति डेलापीर में दो गेहूं ाढय केन्द्राsं एवं कस्तूरबा बालिका विद्यालय सुभाष नगर का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं को परखा।

डीएम ने मंडी समिति डेलापीर में भारतीय खाद्य निगम के गेहू ाढय केन्द्र के निरीक्षण में देखा कि गत दिवस तक 9500 कु0 गेहू ाढय हो चुका था तथा आज

300 कु0 गेहू की तौल हो चुकी थी और तौल होना जारी था दूसरे ाढय केन्द्र खाद्य विभाग पर 14 हजार गेहू गत दिवस तक खरीदा जा चुका था। डीएम ने दोनो ाढय केन्द्राsं पर मौजूद किसानों से बातचीत की। तौल के बारे में पूछा। उनकी खेती का रकवा व गेहू बेचने की मात्रा आदि पूछताछ की। किसानों ने बताया कि उन्हे 1635
रु
0 फ्रति कु0 का भाव मिल रहा हैं। डीएम ने दोनों केन्द्र फ्रभारियों को पेयजल की व्यवस्था रखने के निर्देश दिये। मंडी सचिव को निर्देशित किया कि मंडी में साफ-सफाई और अच्छी रखी जाए। गेहू खरीद को और तेज करने पर बल दिया। पर्याप्त संख्या में तौल करने वाली लेवर रखी जाये। आवश्यकतानुसार कांटे बढाये जाये ताकि किसान को ज्यादा इंतजार न करना पडे। डीएम ने सचल ाढय केन्द्र भी संचालित करने को कहा।

डीएम ने कस्तूरबा बालिका विद्यालय सुभाष नगर में कक्षा कक्ष, आवासीय कक्ष, स्टोर, किचिन, बाथरुम-टायलेट, पेयजल व्यवस्था, सौर्य ऊर्जा संयत्र, खेल कूद की व्यवस्था आदि का बारीकी से निरीक्षण किया। आरओ ािढयाशील नही पाये जाने पर डीएम ने

"rक कराने के निर्देश दिये। डीएम ने भोजन के गुणवत्ता पर विशेष जोर दिया। बालिकाओं से पढाई के बारे में व अन्य व्यवस्थाओं की उपलब्धता के बारे में पूछताछ की। डीएम ने कहा कि बालिकाओं को पढाई, खेलकूद, खान-पान, रहने का अच्छा वातावरण रहना चाहिये।

Share it
Top