Home » दुनिया » उत्तर कोरिया के परमाणु निरस्त्राrकरण पर स्थायी प्रगति चाहते हैं दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति

उत्तर कोरिया के परमाणु निरस्त्राrकरण पर स्थायी प्रगति चाहते हैं दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति

👤 veer arjun desk 5 | Updated on:2018-09-07 17:32:00.0

उत्तर कोरिया के परमाणु निरस्त्राrकरण पर स्थायी प्रगति चाहते हैं दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति

Share Post

सोल, (एपी)। उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन के साथ उनका तीसरे शिखर सम्मेलन की तैयारी कर रहे दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जेइ-इन ने शुक्रवार को कहा कि वह इस वर्ष के अंत तक उत्तर कोरिया के परमाणु निरस्त्राrकरण के प्रयासों में स्थायी प्रगति पर जोर दे रहे हैं।

इस हफ्ते की शुरुआत में मून ने परमाणु गतिरोध के समाधान के लिए अपने विशेष दूत प्योंगयांग भेजे थे। वतन लौटने के बाद दूतों ने बृहस्पतिवार को कहा कि किम को अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप में अब भी भरोसा है और उन्होंने परमाणु मुक्त कोरियाई प्रायद्वीप के प्रति अपनी प्रतिबद्धता दोहराई है। उन्होंने बताया कि किम इस मामले को लेकर अपनी गंभीरता पर उ"ाए जा रहे सवालों पर नाराज दिखे।

बाद में ट्रंप ने ट्वीट किया, उत्तर कोरिया के किम जोंग उन का कहना है कि राष्ट्रपति ट्रंप में उनका अटूट भरोसा है। धन्यवाद चेयरमैन किम। हम इसे एकसाथ करेंगे।

मून ने कहा कि उनके दूतों की प्योंगयांग यात्रा के अपेक्षा से अधिक परिणाम मिले।

परमाणु कूटनीति में अगला कदम अनिश्चित है।

वार्ताकार कई बार ऐसे मोड़ पर पहुंचे जहां उन्हें इस बात का भरोसा नहीं था कि उत्तर कोरिया वाकई में परमाणु निरस्त्राrकरण चाहता है। बहरहाल, उत्तर कोरिया ने हाल के महीनों में अपना यह संकल्प कई बार दोहराया है।

उत्तर कोरिया ने अपने परमाणु एवं रॉकेट इंजन परिक्षण स्थलों को नष्ट किया है लेकिन अमेरिकी अधिकारी उत्तर कोरिया को रियायतें मिलने से पहले उसकी ओर से और गंभीर तथा "ाsस कदम की उम्मीद रख रहे हैं।

मुख्य दूत चुंग यूई यांग ने बताया कि किम ने दक्षिण कोरिया के दूतों से कहा है कि वह और क"ाsर कदम उ"ाने को तैयार हैं बर्शत उनके सदभावना उपायों का "ाrक प्रतिसाद मिले।

Share it
Top